अमित शाह नेउत्तर प्रदेश में मिर्ज़ापुर में मॉं विंध्यवासिनी कॉरिडोर परियोजना का शिलान्यास किया

अमित शाह नेउत्तर प्रदेश में मिर्ज़ापुर में मॉं विंध्यवासिनी कॉरिडोर परियोजना का शिलान्यास किया

केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने आज उत्तर प्रदेश में मिर्ज़ापुर में मॉं विंध्यवासिनी कॉरिडोर परियोजना का शिलान्यास किया।श्री शाह ने विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण भी किया। कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, केन्द्रीय वाणिज्य और उद्योग राज्यमंत्री श्रीमती अनुराधा पटेल समेत अनेक गणमान्य व्यक्ति मौजूद थे।

इस अवसर पर अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश को यह यश जाता है कि उसने 2014 में केन्द्र में पहली बार उनकी पार्टी की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाई।उत्तर प्रदेश ने ही सर्वाधिक सीटों के साथ देशभर में 300 से अधिक सीटों से उनकी पार्टी की सरकार बनायी और इसी उत्तर प्रदेश को इस बात का यश जाता है उसने 2019 में एक बार फिर श्री नरेन्द्र मोदी जी को प्रधानमंत्री बनाया।इसलिए मोदीजी भी उत्तर प्रदेश से ही सांसद बनकर देश की संसद में जाते हैं।मोदी जी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश के लोगों की अपेक्षा और ज़रूरत क्या है और प्रदेश को कैसे आगे बढ़ाना है।

अमित शाह ने कहा कि आपके ही आशीर्वाद से 2014 और 2019 में आपने जो पूर्ण बहुमत दिया उसके आधार पर आज मैं गर्व से यह कह सकता हूँ कि 550 साल से हम जो संघर्ष कर रहे थे कि अयोध्या मे राम मंदिर कब बनेगा मोदी जी ने अब इसके लिए एक ट्रस्ट न्यास की स्थापना कर दी है। कुछ ही समय में अयोध्या में आकाश को छूने वाले रामलला के भव्य मंदिर की शुरुआत होगी।श्री शाह ने कहा किउत्तर प्रदेश में पहले कुंभ में अव्यवस्थाएँ होती थी जिससे कई बार हादसे हो जाते थे।आज योगी जी की सरकार ने कुंभ को सुरक्षित बना दिया है। श्री अमित शाह ने कहा कि उन्होंने बचपन से कई कुंभ देखे हैं पर प्रयागराज जैसा भव्य कुंभ और व्यवस्था कहीं नहीं देखी।उन्होंने कहा कि पहले बाबाविश्वनाथ का दरबार देखकर मन उदास हो जाता था लेकिन आज मैं कहता हूँ कि बाबा का भव्य दरबार देखने का सौभाग्य हम सबको मिलेगा।किसी भी श्रद्धालु को जब बाबा का जलाभिषेक करना होगा तो उसे घुमकर जाने की ज़रूरत नहीं पड़ेगा ऐसे निर्माण की शुरुआत होगी।गृह मंत्री ने कहा कि चाहे ब्रज या चित्रकूट का विकास हो या फिर अयोध्या का दीपोत्सव हो योगी सरकार ने इन्हें पुनर्जीवित करके लोगों की वर्षों से अधूरी इच्छा की पूर्ति की है।

अमित शाह ने कहा कि पहले लोगों के मन में कई बार सवाल उठता था कि सरकार किसकी है, यह हमारी क्यों नहीं सुनती, क्यों हमारी आस्थाओं का सम्मान नहीं होता।क्योंविंध्यवासिनी में भव्य कॉरिडोर नहीं बनता और जो वृद्ध हैं उनके लिए रोपवे की व्यवस्था क्यों नहीं होती।ऊपर चढ़ने की व्यवस्था न होने से तीनों माताओं का दर्शन नहीं पाता था जिससे बुजुर्ग लोगों कि यात्रा पूरी नहीं होती थी। आज मॉं विंध्यवासिनी कॉरिडोर का शिलान्यास और रोपवे के लोकार्पण होने से अब किसी श्रवण कुमार को अपने बूढ़े माता पिता को कांवड में लाने की आवश्यकता नहीं है वह रोपवे से उन्हें त्रिकोण परिक्रमा पूरी करा सकता है।

अमित शाह ने कहा कि मैं पूर्ववर्ती सरकारों से पूछना चाहता हूँ कि उन्होंने इन तीर्थस्थलों का विकास क्यों नहीं किया। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारें वोट बैंक की राजनीति से डरती थी लेकिन उनकी सरकार इससे नहीं डरती।गृह मंत्री ने कहा कि यह आज जो सारे विकास के कार्य हो रहे हैं उससे श्रद्धालुओं को सुविधा मिलने के साथ ही इसक्षेत्र में पर्यटन तथा रोज़गार को बढ़ावा मिलेगा। श्री अमित शाह ने कहा कि उन्होंने भी आज मॉं विंध्यवासिनी के दर्शन कर उत्तर प्रदेश के सुख और स्वास्थ्य की वृद्धि के लिए मन से प्रार्थना की।

गृह मंत्री ने कहा कि उत्तर प्रदेश में जब से योगी आदित्यनाथ की सरकार बनी है तब से राज्य में विकास के ढेर सारे काम हुए हैं।उन्होंने कहा कि विंध्यवासिनी परिसर में श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए जो रोप वे बना है और जो अन्य विकास कार्य हो रहे हैं उनके लिए योगी जी का ह्रदय से आभार व्यक्त करता हूँ।

अमित शाह ने कहा कि जब से मोदी जी की सरकार बनी है तब से दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों के लिए ढेर सारा काम किया है।प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने अभी एक बहुत बड़ा फ़ैसला लिया है जिसके तहत देशभर में चिकित्सा में स्नातक और स्नातकोत्तर पाठ्यक्रमों में केन्द्र कोटा की 25 प्रतिशत सीटों के अंदर अन्य पिछड़े वर्ग के लिए 27 प्रतिशत और ग़रीबों के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की व्यवस्था की है।श्री शाह ने कहा कि हमेशा पिछड़े वर्ग के लोगों के वोट लेकर राजनीति करने वाली पार्टियाँ उनके कल्याण के लिए काम नहीं करतीं। मोदी जी ने उनके लिए आयोग बनाने की बात की और उनके लिए आरक्षण भी ला रहे हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी ने देश के 18 साल से ऊपर के सभी लोगों के लिए मुफ़्त में कोरोना का टीका देने की भी व्यवस्था की है।गृह मंत्री ने यह भी कहा कि जून महीने से लेकर दीपावली, अक्टूबर तक 80 करोड़ लोगों को प्रति व्यक्ति 5 किलो अनाज मुफ़्त देने की योजना भी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने की है।कोरोना की वजह से ढेर सारी परेशानियाँ हुईं और इसका एक सरल रास्ता देश की 80 करोड़ जनता को छह माह तक मुफ़्त अनाज देकर उनका बोझ कम करना था।

अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार के कार्यकाल के चार साल पूरे हो गए हैं और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने 2017 के हमारे चुनाव घोषणापत्र में किए गए एक एक वायदे को चुन चुनकर पूरा करने का काम किया है।पाँच लाख पचास हज़ार दो सत्तर करोड़ रूपये का बजट, योगी जी ने एक ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य रखा है। श्री अमित शाह ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि आपके दोबारा मिलने वाले आशीर्वाद से योगी जी का एक ट्रिलियन डॉलर और मोदी जी का पाँच ट्रिलियन डॉलर अर्थव्यवस्था का लक्ष्य पूरा होगा।

गृह मंत्री ने कहा कि कोरोना की दोनों लहरों में 22 करोड़ से ज़्यादा आबादी वाले इस प्रदेश में योगी जी ने परिश्रम, सूझबूझ और अपनी प्रशासनिक क्षमता का परिचय देते हुए जो कोरोना प्रबंधन किया। उन्होंने उत्तर प्रदेश को लगभग कोरोना मुक्त कर दिया। उन्होंने कहा कि सबसे ज़्यादा वैक्सीनेशन, टेस्टिंग और बेड का निर्माण यहीं पर हुआ है। श्री अमित शाह ने कहा कि 1.80 लाख कोविड बेड उपलब्ध कराए गए, 541 ऑक्सीजन प्लांट बनाने का काम चल रहा है जिनमें से 194 बन गए हैं। साथ ही बच्चों के लिए निःशुल्क दवाई किट देने का काम किया और निराश्रित बच्चों के लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की गई है।

अमित शाह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में स्वास्थ्य क्षेत्र को मज़बूत बनाने के लिए भी बहुत काम किया गया है। हमने हर दो ज़िलों के बीच एक मेडिकल कॉलेज बनाने की बात कही थी तो कुछ लोग हमारा उपहास करते थे कि इतने मेडिकल कॉलेज कहाँ बनेंगे। पिछली सरकार 10 मेडिकल कॉलेज छोड़कर गई थी चार साल में ही योगी जी ने 40 मेडिकल कॉलेज की व्यवस्था कर दी है।श्री अमित शाह ने कहा कि केंद्र सरकार ने 23 हज़ार करोड़ रूपये का जो हेल्थ इंफ़्रास्ट्रक्चर पैकेज घोषित किया है उसका सबसे ज़्यादा फ़ायदा उत्तर प्रदेश को होने वाला है। उन्होंने कहा कि आज उत्तर प्रदेश मेक इन इंडिया में निवेश करने की पहली पसंद बनता जा रहा है। उत्तर प्रदेश सरकार ने लगभग साढ़े तीन लाख करोड़ के निवेश को ज़मीन पर उतारने का भी काम किया है।

गृह मंत्री ने कहा किप्रदेश में पहले जो माफिया दिखाई देते थे अब भाग गए हैं। उत्तर प्रदेश को दंगामुक्त, माफ़ियामुक्त, भू माफियाओं से मुक्ति दिलाने और प्रदेश की माता बहनों को सुरक्षित जीने का अधिकार योगी सरकार ने दिया है।श्री अमित शाह ने कहा कि पूर्वांचल पहले इंफ़्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए राह देखता था अब यहाँ  अनेक विकास कार्य हो रहे हैं।उन्होंने कहा कि प्रदेश में चार साल के अंदर 5 इंटरनेशनल एयरपोर्ट, 8  एयरपोर्ट संचालित हैं, 6 नए एयरपोर्ट और 7 हवाई पट्टियाँ बन रही हैं।श्री शाह ने कहा कि 141 किलोमीटर लंबे पूर्वांचल एक्सप्रेसवे का निर्माण अंतिम चरण में है, 297 किलोमीटर लंबे बुंदेलखंड एक्सप्रेसवे का निर्माण प्रगति पर है, 594 किलोमीटर लंबे गंगा एक्सप्रेसवे का भूमि अधिग्रहण, 91 किलोमीटर लंबे गोरखपुर एक्सप्रेसवे का कार्य प्रगति पर है और बलिया एक्सप्रेसवे को मंज़ूरी देने के साथ ही 14160 किलोमीटर सड़कों को चौड़ा बनाया गया है, 14935 किलोमीटर सड़कों को नया बनाया गया जिनमें 519 छोटे बड़े पुलों का निर्माण किया गया है ।

अमित शाह ने कहा कि विकास को स्ट्रक्चर्ड तरीक़े से कैसे ज़मीन पर उतारा जाता है इसका शानदार उदाहरण योगी आदित्यनाथ की सरकार ने लोगों के सामने रखा है।गृह मंत्री ने कहा कि डिफ़ेंस कॉरिडोर आया है, पहले मिर्ज़ापुर, चंदौली, सोनभद्र नक्सली ज़िले गिने जाते हैं। मैंने हाल ही रिव्यू किया है और मैं गर्व के साथ कह सकता हूँ कि मिर्ज़ापुर, चंदौली और सोनभद्र तीनों नक्सलवाद के प्रभाव से पूर्णतया मुक्त हो चुके हैं।नक्सलवाद को समाप्त करने के साथ ही माफ़ियाओं की 1574 करोड़ रुपये की संपत्ति भी ज़ब्त की गई है।लूट, डकैती, हत्या जैसे अपराधों में 28 से 50 प्रतिशत की कमी आई है।

गृह मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि में क़रीब ढाई करोड़ किसानों को बत्तीस हज़ार पाँच सौ करोड़ रूपये दिए गये, लगभग 78 लाख किसानों से क़रीब 78 हज़ार करोड़ रूपये का धान और गेहूं ख़रीदा गया।साथ ही 20 चीनी मिलों का आधुनिकीकरण किया गया, 30 लाख से ज़्यादा ग़रीबों के आवास बनाए गए, 2 करोड़ 61 लाख शौचालय बनाकर माताओं-बहनों के सम्मान को बढ़ाया गया, सौभाग्य योजना में 1.24 करोड़ ग़रीबों के घर में बिजली पहुँचाने का काम किया गया और 1.47 करोड़ माताओं को गैस का सिलेंडर मुफ़्त देने का नरेन्द्र मोदी सरकार ने किया है और योगी जी ने इसे निचले स्तर तक पहुँचाया है।

अमित शाह ने कहा कि आपका आशीर्वाद हमें काम करने की शक्ति देता है। यह आशीर्वाद किसी व्यक्ति विशेष के लिए नहीं  है बल्कि देश की 135 करोड़ जनता के लिए है।आपका आशीर्वाद 2014, 2017 और 2019 में मिला और यह लगातार बढ़ता ही गया। श्री अमित शाह ने कहा कि मुझे पूरा विश्वास है कि 2022 में भी आपका आशीर्वाद हमें ज़रूर मिलेगा। PIB