अमरिंदर की अगुआई में लड़ेंगे 2022 का चुनाव - हरीश रावत

अमरिंदर की अगुआई में लड़ेंगे 2022 का चुनाव - हरीश रावत

पंजाब सीएम अमरिंदर सिंह को तब्दील करने की मांग को लेकर बुधवार को कांग्रेस के असंतुष्ट नेता देहरादून में हरीश रावत से मुलाकात करने पहुंचे। पंजाब कांग्रेस के प्रभारी ने दो टूक कहा है कि कांग्रेस पार्टी 2022 में भी कैप्टन अमरिंदर सिंह की अगुवाई में चुनाव लड़ेगी। रावत ने कहा कि यह एक परिवार का मामला है। इस मामले को सुलझा लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आने वाला चुनाव हम कैप्टन अमरिंदर सिंह के ही नेतृत्व में ही लड़ेंगे।

पंजाब में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी का दंगल खत्म नहीं हुआ है। सिद्धू व अमरिंदर खेमे के बीच रस्साकसी जारी है। कुछ विधायकों के साथ पंजाब सरकार के चार मंत्रियों ने हरीश रावत से बुधवार को देहरादून में मुलाकात की। रावत से मुलाकात करने वाले नेताओं में कैबिनेट मंत्री तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, सुकविंदर सिंह सरकारिया, सुखजिंदर सिंह रंधावा और चरणजीत सिंह चन्नी शामिल रहे।

अमरिंदर सिंह और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू के खेमों के बीच सत्ता को लेकर खींचतान मंगलवार को उस वक्त तेज हो गई, जब चार कैबिनेट मंत्रियों और पार्टी के कई विधायकों ने सीएम को हटाने की मांग करते हुए कहा कि वह चुनावी वादों को पूरा करने में विफल रहे हैं।

अमरिंदर खेमे ने भी मोर्चा खोला और सिद्धू को निशाना बनाया गया। सिद्धू के दो सलाहकारों की राष्ट्र विरोधी एवं पाकिस्तान समर्थक टिप्पणी को लेकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की गई। सीएम समर्थक नेताओं ने आलाकमान को चेतावनी दी कि पंजाब विधानसभा चुनावों से पहले ये टिप्पणी कांग्रेस को भारी नुकसान पहुंचा सकती हैं। TNI